Hindi Blog knowledge

www.hindiblogknowledge.com Hindi blog knowledge, Technology, Tech, Whatsapp, Internet, and all information

Breaking

INTERNET लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
INTERNET लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 12 सितंबर 2019

सितंबर 12, 2019

Google chrome me apni man pasand language kese set kare

Google  क्रोम browser  में अपनी पसंद की भाषा कैसे set  करें?

Google chrome browser एक fast, secure और free web browser है जिसका इस्तेमाल दुनिया में सबसे ज्यादा किया जाता है। यह दुनिया का सबसे ज्यादा popular ब्राउज़र है। आप क्रोम ब्राउज़र को अपनी पसंद की भाषा में इस्तेमाल कर सकते हैं। इस post  में मैं आपको बताने वाला हूं कि google  क्रोम ब्राउजर में अपनी पसंद की language कैसे सेट करें?

       Google chrome me apni man pasand language kese set kare 

Chorm की अपनी भाषा english  है लेकिन अगर आप इंग्लिश नहीं जानते हैं या आप किसी और भाषा में, मतलब अपनी मनपसंद की भाषा में chor  का इस्तेमाल करना चाहते हैं तो आप google  क्रोम की language change कर सकते हैं।

Chorm एक फ्री internet  ब्राउज़र है जिसे officially 11 december 2008 को google दवारा रिलीज़ किया गया था और आज ये दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाला browser बन चूका है। इसकी लोकप्रियता का कारण, ये बाकि browser की तुलना में सिंपल और काफी उपयोगी सुविधाओं के साथ आता हैं।

इस web browser का उपयोग आप अपनी पसंद की भाषा में कर सकते है। इस artical  में मैं आपको google chrome में अपनी पसंद की भाषण सेट करने का तरीका बता रहा हूँ जिससे आप अपनी पसंदीदा language में क्रोम का use कर सकते हैं।

Google Chrome Browser की Language कैसे Change करें


Google  क्रोम ब्राउज़र भाषा change करने का option देता है। इस post  में मैं आपको क्रोम में अपनी पसंदीदा language सेट करने का तरीका बता रहा हूँ, आईये जानते है।
स्टेप  1:
सबसे पहले अपने computer  में क्रोम ब्राउजर ओपन करे। (आप चाहते तो address bar में chrome://settings/?search=language type करके सीधे chrome language settings में जा सकते हैं।)
  1. Chrome ओपन करने के बाद three vertical dot icon पर क्लिक करके setting पर क्लिक करें।
स्टेप  2:
  1. Settings में जाने के बाद search bar में language type करके सर्च करे और Add Languages पर click करें।
स्टेप  3:
  1. Add languages पर क्लिक करने के बाद अपनी पसंद की भाषा चुनें और निचे add बटन पर click  कर दें।
स्टेप  4:
Add button पर क्लिक करने के बाद आपके द्वारा select  की गयी भाषा को डिफ़ॉल्ट language के रूप में सेट करने के लिए भाषा के सामने three vertical icon option पर क्लिक करे और Dispalt google chrome in thi language पर क्लिक करें।
Display google chrome in this language option पर क्लिक करने पर आपको RELAUNCH का ऑप्शन दिखाई देगा, अगर आप अपनी choose की गई भाषा में chrome  को देखना चाहते हैं तो रेलौंच option  पर क्लिक करें।
Relaunch ऑप्शन पर click  करते ही आपका गूगल क्रोम browser  आपके द्वारा सेलेक्ट की गई आपकी पसंद की भाषा में restart  हो जाएगा।
इस तरह आप google  क्रोम ब्राउजर में अपनी पसंद की भाषा सेट कर सकते हैं और अपनी मनपसंद की भाषा में chrome  का इस्तेमाल कर सकते हैं।
मुझे उम्मीद है, इस post  में बताए गए तरीके से आप क्रोम browser  की लैंग्वेज चेंज कर सकते हैं और google  क्रोम का इस्तेमाल अपनी पसंद की भाषा में कर सकते हैं

अगर आपको यह artical  उपयोगी लगे तो अपने दोस्तों के साथ social media पर शेयर जरूर करें।

बुधवार, 11 सितंबर 2019

सितंबर 11, 2019

Google se track hone se kese bache

Google  इन  तरीकों से करता है आपको track, इससे कैसे बचे?


अगर आप internet  का इस्तेमाल करते है तो आप गूगल सर्च ही करते होंगे और google  के बारे में जानते भी होंगे। क्या आपको पता है की google आपकी हर एक गतिविधि track करता है। जी हां अगर आपको पता नहीं है तो मैं बता दू की आप internet  पर क्या करते है ये सब गूगल जानता है। आईये जानते है की google आपकी जासूसी कैसे करता है और इससे कैसे बच सकते हैं।


                            Google se track hone se kese bache



Google हमारे ऑनलाइन काम को सरल बनाता है साथ ही आपकी location और गतिविधि को भी सरलता से track  कर लेता है। इंटरनेट और digital  युग में आपकी हर एक्टिविटी पर नजर रखी जाती है। google एक जासूस की तरह आपको track  करता हैं।

Google  न सिर्फ आपकी गतिविधि ट्रैक करता है साथ में इसका data  भी अपने पास जमा कर लेता है। Google ऐसा इसलिए करता है ताकि वो आपकी पसंद का पता लगाकर आपको आपकी पसंद की adds  दिखाकर ज्यादा पैसे कमा सके।

Google आपकी activity  कैसे ट्रैक करता है और इससे कैसे बचें

Google  आपके सारे राज जानता है। मतलब जो आप इंटरनेट पर कर रहे है google  सबकुछ जानता हैं। इस पोस्ट मैं आपको कुछ ऐसी tips  बता रहा हूं जो आपको गूगल के track  से बचा सकती हैं।

1. Location ट्रैक करने से बचें

Technology  को लेकर हम कभी कभी अपनी सुरक्षा को भी भूल जाते है और क्रेडिट कार्ड, बैंक अकाउंट details  को online  शेयर करने से डरते नहीं है इसी वजह से हमें कई बार समस्या का सामना करना पड़ता है और नुकसान भी झेलने पड़ते हैं।
Google आपकी हर लोकेशन को आसानी से track कर सकता है। अगर आप चाहते है की google  या कोई भी आपकी location  ट्रैक न कर पाए तो आपको लोकेशन tracking  से बचना होगा। इसके लिए आप अपने फोन की सेटिंग में जाकर Privacy and Safety आप्शन पर जाय यहां आपको location  का आप्शन दिखाई देगा इसे off कर दें। ऐसा करने के बाद google  आपकी लोकेशन track  नहीं कर पायगा 

2. Voice Search का इस्तेमाल करें

Google  आपकी voice searching को भी ट्रैक करता है। अगर आप नहीं चाहते है की गूगल आपकी voice search को ट्रैक करें तो आप voice searching से बचें या कम से कम इसका इस्तेमाल करें। अगर आपको voice search ही करना है तो आप अपनी कोई भी जरुरी जानकारी google  में सर्च या शेयर न करे ताकि आपका data  सुरक्षित रहें।

3. Voice और Web Records को डिलीट करें

जब आप internet  ब्राउज़र में गूगल जीमेल आईडी से लॉग इन करके रखते है तो google  हमारी हिस्ट्री को स्टोर कर लेता है। आप उसे समय समय पर delete  कर सकते है। इसके लिए आपको My Activity History पेज पर जाना होगा। इस पेज पर आपको history  की लंबी सूची दिखाई देखी आप उसे delete  कर सकते हैं।
इसके अलावा specialty audio पेज पर जाए इस पेज पर आपको अभी तक के सभी voice command की details  मिल जाएगी। अपने voice और web records को बंद करने का सबसे आसान तरीका है इस फीचर को disable कर दे और और इन सभी फाइलों को delete  कर दें। आप किसी भी रिकॉर्डिंग पर tree-dots menu पर क्लिक कर उसे delete  कर सकते हैं।

4. जरूरी जानकारी share  न करें

बहुत से लोग बहुत सी बार google  सर्च इंजन में क्रेडिट कार्ड नंबर, एटीएम पिन, bank account नंबर, पिन, पासवर्ड और अन्य जरूरी data  सर्च कर लेते है या जीमेल मैसेज में भेज देते है। जैसे ही आप ऐसा करते है google  उसे track  कर लेता है और हमेशा के लिए अपने पास save रख लेता हैं।
अगर आप इससे बचना चाहते है तो google में कभी भी ये सब जानकारी search  न करें। गूगल का समझदारी से इस्तेमाल करे और हमेशा ध्यान रखें जो आप google  में सर्च कर रहे है वो आपके लिए मुसीबत तो न बन जाएगा। साथ ही google  में गलत जानकारी कभी सर्च न करें।

5. Safe Browsing का इस्तेमाल करें

अगर आप चाहते है की google आपको track  न करें तो safe ब्राउज़िंग का इस्तेमाल करें। इसके लिए आप chrome browser और Firefox ओपन करके Ctrl+Shift+N key button दबाएं इससे safe browser ओपन होगा उसे इस्तेमाल करें। इससे गूगल आपकी browsing history, cookies और जानकारी को track  नहीं करता हैं।
इन तरीकों से आप google से अपने आपको track  करने से बच सकते है और internet  का सुरक्षित इस्तेमाल कर सकते है इसके साथ ही हमेशा ध्यान रखें की आप कभी ऐसी searching न करे जो आपके लिए मुसीबत बन जाए और आपको निराश होना पड़ें।
हमेशा ध्यान में रखने योग्य बात: internet  बैंकिंग, मोबाइल रिचार्ज, बिल पेमेंट, online  खरीददारी, पैसों का लेनदेन आदि जैसे काम करते समय safe browsing का इस्तेमाल करें।
अगर आपको इस पोस्ट की जानकारी उपयोगी लगे तो इसे social media  पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें।

मंगलवार, 10 सितंबर 2019

सितंबर 10, 2019

GOOGLE KE BARE ME 100 MAJEDAR OUR ROCHAK TATHY

Google  के बारे में 100+ मजेदार और रोचक तथ्य


Google एक ऐसा शब्द है जिसके बारे में सारी दुनिया के लोग जानते हैं। 1998 में इसकी शुरुआत हुई थी और आज यह हमारी डेली life  का अहम हिस्सा बन गया है। हम हर रोज इसका इस्तेमाल करते हैं, लेकिन इसके बारे में बहुत कुछ नहीं जानते हैं। आइए आज हम आपको google  के बारे में 100+ रोचक तथ्य बता रहे हैं। 100 रोचक तथ्य, 100+ Amazing Facts about Google in 
Hindi.

                 Google ke bare me 100 majedar rochak tathy


जब एक user  internet  उपयोग करता है, उसे किसी भी प्रकार की जानकारी चाहिए होती है तो सबसे पहले google  का ही उपयोग करता है। गूगल हर चीज में हमारी मदद करता है, इसलिए इसे google  बाबा भी कहते हैं।

एक आम धारणा है कि google  सब कुछ जानता है, लेकिन क्या आप भी google  के बारे में सब कुछ जानते हैं। यदि नहीं तो इस पोस्ट में बताए गए google  के बारे में 100+ तथ्यों को पढ़ने के बाद आप google  के बारे में सब कुछ जान जाएंगे।

तो आइए जानते हैं google  के बारे में रोचक बातें

Google के बारे में 100+ दिलचस्प और रोचक बातें


Amazing facts about google in hindi:
  1. Google की शुरुआत सन 1996 में हुई, यानी कि अब google  लगभग 23 वर्ष का हो गया है।
  2. लेकिन google  की स्थापना 1998 में की गई और गूगल अपना जन्मदिन 27 सितंबर को मनाता है।
  3. पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाले सर्च enjan Google को लैरी पेज और सर्गी ब्रिन ने बनाया था।
  4. Google के आने से पहले Yahoo सर्च इंजन का उपयोग होता था।
  5. गूगल के आने के कुछ समय पश्चात ही google  ने भारी लोकप्रियता हासिल कर ली और वो याहू को पीछे छोड़कर एक नंबर पर आ गया।
  6. Google असल में Googol कि गलत स्पेलिंग है। Googol एक बहुत बड़ी संख्या है जिसमें 100 शून्य लगते हैं। Googol नाम का Domain पहले ही बुक हो चुका था, इसलिए Domain register करते समय इसे Google नाम देना पड़ा।
  7. 1998 में पहली बार google  डूडल Google होम-पेज पर दिखाई दिया।
  8. गूगल की एक बहुत बड़ी टीम google  डूडल का काम देखती है जो गूगल डूडल के वीडियो और ग्राफिक्स बनाती है।
  9. Google  किसी बड़े दिन या किसी खास व्यक्ति की जयंती पर google डूडल को अपने homepage  पर लगाता है। उदाहरण के लिए, 2 अक्टूबर को google  लोगों की जगह गांधी जी का फोटो लगाया जाता है।
  10. "I'm Feeling Lucky" पर click  करके आप google  के अब तक के सारे लोगो (Logo) देख सकते हैं।
  11. Google ने अप्रैल 2004 में अपनी e-mail  सर्विस Gmail शुरू की थी। तेजी से ईमेल भेजने की वजह से यह सर्विस कुछ ही समय में popular  हो गई।
  12. Gmail का आईडिया राजन सेट ने दिया था जब वह google  में इंटरव्यू के लिए गए थे।
  13. गूगल ने Android कंपनी को 2005 में खरीदा था। आज एंड्रॉयड फोन की लोकप्रियता इतनी अधिक है कि लगभग 80% स्मार्टफोन android  सिस्टम ही यूज करते हैं। मतलब हर 10 फोन में से 9 फोन android  के होते हैं।
  14. 2005 में ही गूगल ने google map और google earth app की शुरुआत की थी।
  15. गूगल ने 2006 में YouTube को 1.65 बिलियन अमेरिकी doller  में खरीदा था।
  16. अब youtube  पर हर महीने लगभग 6 अरब घंटों के वीडियो देखे जाते हैं।
  17. Google कंपनी विज्ञापन से हर साल 20 मिलियन doller  कमाती है। जो सीबीएस (CBS), एनबीसी (NBC) और फॉक्स (FOX) जैसी दिग्गज कंपनियों की कमाई से भी ज्यादा है।
  18. साल 2014 में google  की कमाई का 89% भाग विज्ञापन से ही आया था।
  19. जवाब google  में "askew" सर्च करते हैं तो प्लीज थोड़ा-सा दायीं और झुक जाता है।
  20. Google  का सर्च इंजन 100 million  गीगाबाइट का है, इतना डाटा सेव करने के लिए हमें 1 टेराबाइट (TB) की 1 लाख driver  की जरूरत होगी।
  21. Google  ने अपनी पहली twite कंप्यूटर की भाषा बाइनरी (Binary) में की थी, जिसमें 0 और 1 का इस्तेमाल किया गया था।
  22. Google  ने जो पहले twite की थी, वो ट्वीट यह थी, "I’m 01100110 01100101 01100101 01101100 01101001 01101110 01100111 00100000 01101100 01110101 01100011 01101011 01111001 00001010". English  में इसका मतलब होता है "I'm feeling lucky"
  23. Google एक सेकंड में लगभग 1,30,900 रुपए कमाता है।
  24. अगर आपको कोई चीज सर्च करना हो तो लोग कहते हैं कि google  पर सर्च करो ना कि इस net  पर। मतलब अब गूगल internet  का पर्याय बन चुका है।
  25. 2010 के बाद गूगल ने प्रति सप्ताह औसतन कम से कम एक compny को खरीदा है।
  26. 2000 में गूगल ने adword की शुरुआत की जिस पर विज्ञापनदाता अपने विज्ञापन चला कर सकते हैं।
  27. Google के Head Office में 200 बकरियों को घास काटने के लिए रखा गया है।
  28. घास काटने के लिए google  घास काटने वाली मशीन नहीं रखता क्योंकि इससे निकलने वाली आवाज से दफ्तर के लोगों को परेशानी होती है।
  29. Google  का homepage इतना खाली इसलिए है क्योंकि सर्गी ब्रिन और लैरी पेज को html का ज्ञान नहीं था, जिससे वह गूगल होमपेज को भव्य बना सकते।
  30. Google  ने अपने स्ट्रीट व्यू मैप के लिए 80 लाख 46 हजार किमी. सड़क के बराबर photo graph लिए हैं।
  31. दुनिया की सबसे बड़ी कंपनी की website  में 23 markup error हैं।
  32. हर हफ्ते 20,000 से भी ज्यादा लोग google  में जॉब के लिए apply  करते हैं।
  33. Google  कोई भी बाद लाता है तो वह कुछ ही समय में हिट हो जाता है। उदाहरण के लिए, google  chrome  के आने के बाद सभी इंटरनेट user  इसी का इस्तेमाल करने लग गए।
  34. प्रतिवर्ष google  पर 2095100000000 सर्च क्यों जाते हैं यानी कि प्रति सेकंड 60,000 से ज्यादा सर्च होते हैं।
  35. Google  सर्च रिजल्ट को filter  करने के लिए 200 से अधिक कारकों को ध्यान में रखता है।
  36. 2013 में google  ने एक बुढ़ापा विरोधी कैलिको कंपनी की स्थापना की, जो मूल रूप से मौत का इलाज करती है।
  37. Firefox वेब ब्राउज़र का मुख्य डेवलपर अब google  के लिए काम कर रहा है।
  38. Google  2020 से पहले सभी मौजूदा आदित्य पुस्तकों कोई स्कैन करना चाहता है।
  39. Google.com/Mars मंगल ग्रह का दृश्य प्रस्तुत करता है।
  40. Google  दुनिया का सबसे ज्यादा Visit किया जाने वाला website  है।
  41. Google  पर हर मिनट में 200000 से अधिक खोज किए जाते हैं।
  42. 2004 में जब विश्वसनीय G-mail  1GB मुफ्त स्टोरेज के साथ पेश किया गया था तब Hotmail  केवल 2MB स्टोरेज देता था।
  43. जब आप  google  में "atari breakout" सर्च करते हो, तो आप एक गेम खेल सकते हो।
  44. Googlesucks.com डोमेन google  के स्वामित्व में ही है।
  45. 2007 में 1 अप्रैल को, यानी मूर्ख दिवस के दिन google  ने अपने कर्मचारियों को एक चेतावनी इमेज भेजा कि Python सुविधा उपलब्ध करने में असमर्थ है, हालांकि यह कोई मजाक नहीं था।
  46. एक औरत, जिसने google  का निर्माण करते समय लैरी पेज और सर्गी ब्रिन को अपना गैराज किराए पर दिया था, बाद में उसे youtube  का सीईओ बना दिया गया।
  47. Google  अर्थ के डेटाबेस का कुल आकार 20 Petabytes से अधिक है।
  48. Google  मैप्स ट्रेफिक का अंदाजा इस प्रकार से लगाती है कि android  डिवाइस कितनी तेजी से रोड पर बढ़ती है।
  49. 16 अगस्त 2013 को google  की website  5 मिनट के लिए डाउन हो गई थी। उस समय वैश्विक internet  ट्रैफिक में 40% की गिरावट आई थी।
  50. Google  के बजाय Bing उपयोग करने के लिए Microsoft आपको भुगतान करता है।
  51. जब google  का कोई कर्मचारी मर जाता है तो उसके जीवन साथी को 10 साल तक उसका आधा वेतन देता है।
  52. और उसके बच्चों को $1,000 प्रतिमाह दिए जाते हैं, जब तक कि वह 19 वर्ष का न हो जाए।
  53. आप google  मैप की मदद से समुंदर के पानी के अंदर जहाजों और जीवो को देख सकते हैं।
  54. वर्साचे पोशाक जेनिफर लोपेज ने 2000 में ग्रैमी अवार्ड के लिए पहना था। जिसके कारण google  इमेज सर्च में भी कूद पड़ा।
  55. Google  की ओर से किसी भी टीम को नए साल 2016 की शाम तक चंद्रमा पर उतरने के लिए 20 million  doller दिया गया था।
  56. Google  एक ऐसा बेहतरीन computer  तैयार कर रहा है जो अपना प्रोग्राम खुद बनाएगा।
  57. जब google  ने 1 अप्रैल 2004 को G-mail  की शुरुआत की तो बहुत से लोगों को लगा था कि यह सिर्फ अप्रैल फूल बनाने के लिए है।
  58. गूगल का पहला computer भंडारण LEGO से बनाया गया था।
  59. Google  का नाम "गूगल" सिर्फ संयोग से मिला था। संस्थापकों ने तो इसका नाम गोगोल रखा था।
  60. Google  "मैं भाग्यशाली महसूस कर रहा हूं" बटन पर प्रतिवर्ष 110 million  doller  खर्च करता है।
  61. सबसे पहला google  डूडल 1998 में उसके संस्थापक ने "चलते हुए आदमी के त्योहार" पर बनाया था।
  62. 1999 में गूगल के संस्थापको ने google  को याहू को 1 million  डॉलर में बेचने की पेशकश की थी।
  63. Yahoo! Google  को एक million  डॉलर की कीमत में खरीद सकती थी लेकिन नहीं खरीदा।
  64. बाद में google  इतना ज्यादा चला कि उसने yahoo  को ही पीछे छोड़ दिया।
  65. एंड्रॉयड operating  सिस्टम जो कि आज मार्केट में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किए जाने वाला OS गया है।
  66. Google  ने android  ऑपरेटिंग सिस्टम को ABCD अल्फाबेट के हिसाब से नाम क्या है।
  67. Google  प्रतिदिन 5 अरब रुपए से भी ज्यादा कमाता है यानी कि हर शिखर में ₹50000 से भी ज्यादा।
  68. गूगल ने 466453.com डोमन को भी ले लिया था क्योंकि मोबाइल कीपैड जिसमें नंबर और अवैध साथ होते हैं 4666453 की बटन दबाने से ही google टाइप होता था। इसलिए अगर किसी ने नंबरिंग सिलेक्ट किया हुआ हो तो भी वह google  की साइट पर ही पहुंच जाएगा।
  69. Google लिखने में होने वाली स्पेलिंग की गलती Googlr.com, Gooogle.com आदि डोमेन का मालिक भी google  ही है।
  70. दुनिया भर में जितनी भी website  और ब्लॉग है उन्हें सबसे ज्यादा ट्रैफिक google  सर्च से ही मिलता है।
  71. इसीलिए हर website  और ब्लॉग आओ ना अपनी साइट को गूगल गाइडलाइन के हिसाब से ही ऑप्टिमाइज करते हैं।
  72. Google  की 90% से अधिक की कमाई विज्ञापनों से ही होती है।
  73. Google  मैप सड़क के दृश्य में 360 डिग्री शामिल करता है, जो माउंट एवरेस्ट के आधार पर शिविर से दिखाई देता है।
  74. 2010 में google  मैप की एक गलती की वजह से निकारागुआ ने अचानक कोस्टा रिका पर हमला किया।
  75. एक अकेले google  को जिसने कंप्यूटर शक्ति की जरूरत पड़ती है उतनी अपोलो 11 को चंद्रमा में भेजने के लिए भी नहीं पड़ती।
  76. स्टीव जॉब्स ने google  के दूसरे "O" में पीले रंग की दाल बनाने के लिए कहा था क्योंकि प्रतीक चिन्ह सही नहीं लग रहा था।
  77. लगातार चार सालों तक, अमेरिका के फॉर्च्यून मैगजीन google  कंपनी को सबसे अच्छी कंपनी नामित किया।
  78. रेगिस्तान की सड़कों को दर्शाने के लिए google  ने ऊंट hire किया है।
  79. फेसबुक का पहला वार्षिक हैकर कप कोडिंग चुनौती google  के एक प्रोग्रामर ने ही जीता था। वो अपना पुरस्कार रहने के लिए फेसबुक मुख्यालय में अपना गूगल कर्मचारी का बिल्ला पहनकर ही आए थे।
  80. Google  पर प्रति सेकंड करीबन 60,000 सर्च किए जाते हैं।
  81. Google  ने काम पर रखने के लिए कोई Criteria नहीं रखा है, बल्कि इसके लिए वह कर्मचारियों के टैलेंट को देखते हैं।
  82. Google की टीम में 14% ऐसे कर्मचारी हैं जो कभी कॉलेज नहीं गए।
  83. ईरान के सबसे बड़े हवाई अड्डे दाऊद के स्टार को 30 साल के लिए इसकी छत में एंबेडेड किया गया था, जिसका google  अर्थ के माध्यम से भी पता नहीं चला।
  84. Google  पर हर रोज 16% ऐसे सर्च इसकी जाते हैं जो पहले कभी नहीं किए गए।
  85. Google  ने अपनी साइट का एक वर्जन कलिंगऔंस की भाषा में अनुवाद क्या है।
  86. Google  ट्रांसलेट जब कोई चीज का अनुवाद करता है तो 10 साल पुराने डॉक्यूमेंट तक को खोजता है।
  87. Youtube  google  के बाद दुनिया का सबसे बड़ा सर्च इंजन है।
  88. Google  के कुछ कर्मचारी 90,000 डॉलर से भी ज्यादा कमाते हैं।
  89. Google  का आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस जीने का मकसद हमेशा के लिए जिओ बताता है।
  90. Yahoo  की सीईओ google  की पहली महिला कर्मचारी थी।
  91. Google  के पास आपके द्वारा किए गए सभी कार्यों की एक विस्तृत टाइमलाइन है जिसे "My Activity" कहा जाता है।
  92. Google  को हर साल 2 मिलियन से अधिक नौकरी के आवेदन मिलते हैं।
  93. नेटफ्लिक्स google  से भी पुराना है, इसकी स्थापना 1997 में हुई थी। जबकि गूगल की स्थापना 1998 में हुई।
  94. Google  के हेड क्वार्टर को गूगल प्लेक्स कहा जाता है।
  95. Google  के पास 25मिलियन पुस्तकों का डेटाबेस है जिसे पढ़ने की अनुमति नहीं है।
  96. 2012 में google  ने मोटोरोला को 12.5 Billion US Dollar में खरीदा था।
  97. अमेजॉन के सीईओ ने google  पर शुरुआती समय में $250000 लगाए थे, अब इनकी कीमत 2.2 बिलियन के करीब है।
  98. Google  ने कॉपीराइट के उल्लंघन के चक्कर में 1.75 बिलियन साइट हटा दी हैं।
  99. आप google  स्ट्रीट व्यू की मदद से ग्रैंड कैनियन घूम सकते हैं।
  100. जीमेल में डॉट (.) से कोई फर्क नहीं पड़ता है। अगर आप किसी ईमेल एड्रेस में extra.to लगा दो तो ईमेल सही  जगह पर पहुंच जाएगा।

ये थी google  के बारे में 100 दिलचस्प बातें और जानकारियां। google  के बारे में इन मजेदार और दिलचस्प तथ्यों के बारे में शायद ही आपको पता होगा। हो सकता है आप इनमें से कुछ के बारे में जानते हैं लेकिन सब के बारे में नहीं।

Google के बारे में अभी और भी बहुत सारी जानकारियां, जिनके बारे में हम भविष्य में बात करेंगे। उम्मीद है आपको google  के बारे में यह सब जानकारी हासिल करने के बाद, हमारा यह artical  पसंद आया होगा।

सोमवार, 12 अगस्त 2019

अगस्त 12, 2019

Website speed test katne ki top 10 website

WEBSITR  Speed  टेस्ट करने की टॉप 10 फ्री tools  2019


यहां हम website  की स्पीड चेक करने की 1-2 नहीं balki  top 10 फ्री tools  के बारे में बता रहे हैं। जिनसे आप पता कर सकते हो कि आपकी वेबसाइट fast load होती है या slow load. यह website  स्पीड टेस्ट टूल website  डेवलपर और ब्लॉगर दोनों के लिए महत्वपूर्ण है। तो चलिए जानते हैं "Website Speed Test करने  की टॉप  10 टूल्स " के बारे में।


                       Website speed test karne ki top 10 website 



Websites  लोडिंग स्पीड user experience से लेकर search इंजन  optimization तक लगभग हर क्षेत्र में आपकी site  के प्रदर्शन को प्रभावित करते हैं। लोडिंग speed  आपकी website  को बना या बिगाड़ सकती हैं।

वास्तव में, एक user  पृष्ठ लोड होने के लिए 1-2 सेकंड का ही इंतजार करता है। यही कारण है कि बड़े ब्लॉगर, SEO एक्सपर्ट और डेवलपर्स वेबसाइट को fast loading बनाने की सलाह देते हैं।

यहां पर बताई गई website  स्पीड चेक करने की tools से आप अपनी website  की loading  स्पीड टेस्ट करके यह पता लगा सकते हो कि आपकी website  को स्पीडअप करने के लिए क्या क्या optimizing करने की जरूरत है।


Website Speed चेक कारने  10 Best Free Tools 2019

यह tools  हमेशा बदलते रहते हैं और update  होते रहते हैं। यहां पर हम 2019 के 10 सबसे बढ़िया blog  स्पीड test  करने के tools  के बारे में बता रहे हैं।

1. GTmetrix

Gtmetrix 2019 के टॉप फ्री और premium website  स्पीड टेस्ट टूल में से एक है। यह बाकी सभी speed  चेकर टूल्स से सरल और सीधा है आप बस इसकी साइट पर जाएं, अपनी साइट का URL  डालें और Analyze पर हिट करें, REPORT  आपके सामने होगी।
GTmetrix की विशेषताएं।
  • इसका इंटरफेयर्स उपयोग करने में अविश्वसनीय आसान है।
  • Website  की स्पीड स्कोर कम होने की वजह के साथ उसका solution  भी बताता है।
मैंने बहुत सारे website  स्पीड टेस्ट टूल का इस्तेमाल किया है। लेकिन मुझे यह सबसे बढ़िया और बेहतर लगता है और बाकी लोग भी इसे 2019 में सबसे better  speed  टेस्ट टूल मानते हैं।

2. Pingdom Tools

GTmetrix के बाद यह एक और सबसे बढ़िया वेबसाइट speed  चेकर tool  है। ये उपयोगकर्ताओं को विकल्पों और सादगी का एक मिश्रण प्रदान करता है। इसके निम्नलिखित लाभ है।
  • उपयोगकर्ता 7 अलग-अलग परीक्षण स्थानों से अपने web पेज की speed  टेस्ट कर सकते हैं।
  • इसकी web page speed score improve करने की गाइडलाइन जीटीमैट्रिक्स के जैसे ही समझने में आसान है।
  • Pingdom फ्री में वेबसाइट स्पीड टेस्ट के साथ free uptime मोनिटरिंग  भी प्रदान करता है।


WebPageTest उपयोगकर्ताओं के लिए most पॉपुलर वेबसाइट टेस्ट  tools में से एक है। यह GtMetrix और Pingdom से कहीं बेहतर speed   रिपोर्ट provide करता है। इसकी निम्न विशेषताएं हैं।
यह graid  के हिसाब से website  परफॉर्मेंस टेस्ट करके बताता है।
एक बार में ही एक से ज्यादा बार speed  टेस्ट repet  कर सकते हो।
First व्यू  के साथ cache version भी देख सकते हैं।
Internet  ब्राउजर Chrome, Firefox के हिसाब से test run कर सकते हो।


4. Google PageSpeed Insights

Google  पेज speed  इन साइट्स का web  पेज speed  स्कोर बताता है। यह इसलिए खास है क्योंकि यह google ka   बनाया हुआ टूल है और SEO के हिसाब से वेबसाइट की dekstop और मोबाइल डिवाइस दोनों संस्करणों में speed  चेक करके बताता है।
इस पर अबसे ज्यादा लोग believe करते है, क्योंकि google  के परिणाम दूसरों के परिणामों की तुलना में अधिक मायने रखते हैं और गूगल ही sarch  रैंकिंग बनाता है। इसलिए लोग मानते हैं कि अगर google  स्पीड टेस्ट टूल आपकी website  में कोई समस्या बताता है तो उसे गंभीरता से लेने की जरूरत है।

अगर यह tool  गूगल का official tool नहीं होता तो ये इस लिस्ट में शामिल नहीं होता। क्योंकि यह बाकी tools  की तरह विस्तारित जानकारी प्रदान नहीं करता है

 5.SEO Site Checkup

वेबसाइट स्पीड सर्च रैंकिंग को बेहतर करने में मदद करती है और यह टूल वेबसाइट स्पीड SEO चेक करने की सबसे बढ़िया टूल है। एसईओ साइट चेकअप टूल वेबसाइट स्पीड के साथ एसईओ स्कोर भी बताता है।
इसकी निम्न विशेषताएं हैं।
  • साइट की एसईओ रिपोर्ट देता है।
  • समस्याओं को ठीक करने के लिए आसान उदाहरण देता है।
  • व्यापक दृष्टिकोण आपको यह देखने में मदद करता है कि आपकी साइट उपयोगकर्ताओं के साथ google algorithm के लिए

6. Website Speed Test (or Performance Test)

यहां पर मैं बात कर रहा हूं KeyCDN के Website Speed Test (Full Page Speed Test) और Performance Test tools टूल्स की जो साइट स्पीड और परफॉर्मेंस दोनों के बारे में बताते है।

हालांकि यह टूल्स सॉल्यूशन प्रदान नहीं करते। लेकिन इनका इंटरफेस इस्तेमाल करना बहुत आसान और सीधा है। इसीलिए मैंने इन्हें यहां पर शामिल किया है। अगर आपने इन का इस्तेमाल नहीं किया है तो एक बार जरूर ट्राई करें।

7. Website Speed Test (Image Analysis Tool)

ये Website Speed Test tool वास्तव में एक Image Analysis tool जो वेबपृष्ठ की छवियों को test करके image compression के हिसाब से स्कोर बताता है। इसकी निम्नलिखित विशेषताएं हैं।
  • वेब पेज की छवियों की स्पीड टेस्ट करके बताता है।
  • किस इमेज को compress कर कितना साइज कम कर सकते हैं, उसके बारे में बताता है।
अपनी वेबसाइट के किसी भी पेज की छवियों को कंप्रेस करके वेब पेज को कितना स्पीड अप किया जा सकता है। इसका पता करने के लिए आप इस टूल का इस्तेमाल कर सकते हैं

8. Site 24x7

अक्सर आपकी साइट पृष्ठ की गति HTML, Javascript और CSS द्वारा निर्धारित की जाती है जो आपने फ्रंट-एंड पर लागू किया है। लेकिन कई मामलों में आपका hosting  server  आपकी वेबसाइट की speed पर सीधा प्रभाव डाल सकता है।
Site  24x7 वेब पेज विश्लेषण tool को विशेष रूप से इसके लिए ही desine  किया गया है। इसका इस्तेमाल करने से निम्न फायदे हैं।
  • वेब server  का मूल्यांकन कर सकते हैं, क्योंकि यह webpage  गति से संबंधित है।
  • विभिन्न अन्य system  व्यवस्थापक उपकरणों के साथ एकीकृत कर सकते हैं।
  • ये एक आसानी से पढ़ा जाने वाला waterfall graph प्रदान करता है जो आपके वेब पेज loading  स्पीड को दर्शाता है।
ये टूल WebPageTest, Gtmetrix, Pingdom और Goolge PageSpeed Insights tools का संक्षिप्त रूप है, आप एक बार इसका इस्तेमाल जरूर करके देखें।

9. Sucuri Load Time Tester

Sucuri load time tester tool आप यह पता कर सकते हैं कि आपकी website  कितनी तेज है। इससे आप दुनियाभर में अपनी किसी भी website  की परफारमेंस का परीक्षण कर सकते हैं।
यह परीक्षण मापता है कि आपकी site  से conect  होने में और एक page  को पूरी तरह से load  होने में कितना समय लगता है। इस टूल पर आप पृष्ठ लोड का Connection time, First Byte Time और Total time test कर सकते हो।


ये हमें यह बताता है कि पेज को संसाधित करने के लिए सामग्री को browser  में वापस भेजने में worldwide कितना समय लगता है। लेकिन याद रहे, अगर आप CDN (content delivery network) का इस्तेमाल नहीं करते हैं तो connection  का समय ज्यादा हो सकता है।


10. Dotcom-Tools.com

अधिकांश website  स्पीड टेस्ट टूल्स एक समय में केवल एक स्थान से webpage  स्पीड टेस्ट करते हैं। लेकिन Dotco.-tools.com वेबसाइट स्पीड टेस्ट टूल पूरी दुनिया में लगभग 24-25 स्थानों से आपकी website  की स्पीड की जांच करता है।
इसकी सबसे बड़ी खासियत यह है कि यह tool  वेब पेज को लोड करके उसे फिर से repeat करके भी देखता है और दोनों की loading  स्पीड बताता है। इससे पता चलता है कि आपकी website  पहली बार में लोड होने में कितना समय लेती है और दूसरी बार में कितना।

इससे हम यह भी देख सकते हैं कि हमारी website  दुनिया में किस-किस location  पर open  हो रही है और किस किस location पर नहीं। मैं इसीलिए ही इसका इस्तेमाल करता हूं।