Hindi Blog knowledge

www.hindiblogknowledge.com Hindi blog knowledge, Technology, Tech, Whatsapp, Internet, and all information

Breaking

TECH लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं
TECH लेबलों वाले संदेश दिखाए जा रहे हैं. सभी संदेश दिखाएं

गुरुवार, 1 अगस्त 2019

अगस्त 01, 2019

COMPUTER KE BARE ME 10 ROCHAK THATYA

COMPUTER  के बारे में 10 रोचक तथ्य और दिलचस्प बातें


आज मैं आपको computer के बारे में कुछ ऐसे facts बताने वाला हूँ जिन्हें पढ़कर आप कंप्यूटर के बारे मैं बहुत कुछ जान जायंगे। COMPUTER  का इस्तेमाल दुनिया में अब बहुत  ज्यादा ही होने लगा है kyoki  इससे हम घर बैठे बहुत से काम कर सकते है। जिसकी वजह से आज देश के युवाओं को nokari   के लिए desh भर में भटकना नहीं पड़ता है। वैज्ञानिको की बनाई हुई ये  MACHIN आज सभी के लिए मददगार साबित हो रही है।

                              Computer ke bare me 10 rochak tathya


COMPUTER  को हम अपनी भाषा मैं एक व्यापार मशीन भी कह सकते है। कहते है की कंप्यूटर की खोज Charles Babbage ने की थी। कंप्यूटर की वजह से ही Charles Babbage को computer के पिता कहा जाने लगा।

COMPUTER  की इन सभी खास वजहों से आज मैंआपको बता रहा हूँ कंप्यूटर के बारे मैं कुछ अच्छी बाते। जिन्हें पढ़कर आप COMPUTER के बारे मैं बहुत कुछ जान सकते है।




COMPUTER को शुरुवात से ही लोगो ने अपनी पसंद बना लिया था और आज भी कही बिछड़े हुये गाँवों मैं कंप्यूटर जैसे उपकरणों को देखते ही लोगो की भीड़ जमा हो जाती है। आज दुनिया का बहुत सा काम और पैसो का लेना देना ज्यादातर COMPUTER से ही ONLINE हो जाता है। आइये कंप्यूटर के बारे में कुछ रोचक और दिलचस्प बातें पढ़ते है। COMPUTER के बारे मेें 
10 Interesting Facts हिंदी में 


  1. COMPUTER का सबसे पहला खोज 19 वीं ई में  हुआ था वो भी Charles Babbage के हाथो से इसकी वजह से उनको COMPUTER का पिता कहा जाता है। जिन्होंने 19 वीं सदी मैं एक यांत्रिक कंप्यूटर का अविष्कार किया था।
  2. एक औसत के मुताबिक एक आदमी 1 MINUTE में अपनी आँखे 25 बार झपकाता है और अगर कोई भी व्यक्ति जब COMPUTER के सामने बैठकर काम करता है तो वो अपनी पलके दस बार भी झपका नहीं पाता है।
  3. Eniac जिसका सही और पूरा नाम था ( Electronic Numerical Integrator And Computer ) ये ELECTRONICS कंप्यूटर इतना बड़ा था जो 1800 वर्ग फुट जगह में समाता था जिसका वजन 27 टन बताया गया था
  4. अगर एक COMPUTER  में इंसान के दिमाग के बराबर क्षमता बन जाये तो वो कंप्यूटर एक सेकण्ड के हिसाब से 38 हजार खरब गणना कर सकता है जो TB. (TERABYTES) को डाटा में बदलने में सक्षम हो जाता है
  5. IBM  ने 1980 में एक डेस्कटॉप COMPUTER का अविष्कार किया था जिसका माडल 5120 रखा गया था। उस COMPUTER का भार 105 पाउंड था जिसके बाहर का फ्लोफी ड्राइव 130 पाउंड था।
  6. 1980 में कंप्यूटर के keyboard का अविष्कार किया गया था। COMPUTER चलाते समय सबसे ज्यादा हम माउस को यूज करते है जिसे शुरुवात में Doug Engelbart ने 1964 में सर्वप्रथम लकड़ी का बनाया था।
  7. 1970 में सबसे पहली FLOFY डिस्क का अविष्कार किया गया था उस डिस्क की क्षमता मात्र 75.79 KB थी। 1980 में सबसे पहले MONITER  का प्रयोग किया गया था।
  8. अंग्रेजी भाषा में एक शब्द आता है Compute जिस नाम का अर्थ होता है किसी भी चीज की गणना करना और इसी नाम से COMPUTER नाम का अविष्कार हुआ था। आज कंप्यूटर की सहायता से दुनिया के सारे पैसे की रखवाली की जा रही है
  9. दोस्तों HARD DISK  में हम अपनी कोई भी जरुरी चीज सेफ्टी रख सकते है जो हमारे लिए बहुत फायेदेमंद है और सबसे पहली हार्ड डिस्क का अविष्कार 1979 में किया गया था जो केवल 5 MB डाटा ही कवर कर सकती थी।
यदि आपको computer में ये 10 मजेदार बातें पसंद आये और आपको इनसे कुछ सिखने को मिले तो इस POST  को अपने FRIENDS के साथ सोशल मीडिया पर share जरुर करें ताकि आपकी वजह से कोई और भी computer के बारे में रोचक जानकारी जान सके।

बुधवार, 31 जुलाई 2019

जुलाई 31, 2019

WIFI KYA HAI OUR KESE KAM KARTA HAI

WIFI क्या है और यह काम कैसे करता है?


WiFi क्या है और यह काम कैसे करता है? (What is Wi-Fi in Hindi): वाईफाई नेटवर्क के बारे में तो आपने सुना ही होगा। आज हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं। इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको वाईफाई की पूरी जानकारी हो जाएगी।




                            Wifi kya hai our kese kam karta hai 

 तो चलिए जानते हैं, वाईफाई क्या है और ये कैसे काम करता है, वाईफाई टेक्नोलॉजी का इतिहास क्या है वाईफाई का मतलब, वाईफाई के कितने संस्कार होते हैं, ये कितने प्रकार का होता है, What is WiFi Information in Hindi.

Internet की शुरुआत हुए कुछ ही साल हुए हैं। पहले कोई भी Information Digital तरीके से भेजने के लिए केवल Cables ही एकमात्र तरीका था।

लेकिन टेक्नोलॉजी दिन पर दिन बदलती गई और Computer Scientist ने एक ऐसी Wireless Technology बना डाली जिसके जरिए बिना केबल के डाटा ट्रांसफर किया जाने लगा।


उस टेक्नोलॉजी का नाम है WiFi

आज हम यहां पर इसी के बारे में जानेंगे। तो चलिए विस्तार से जानते हैं वाईफाई क्या होता है? WiFi क्या है

Wi-Fi क्या है? (What is WiFi in Hindi)

WiFi एक ऐसी टेक्नोलॉजी है, जिसमें रेडियो वेब का उपयोग करके नेटवर्क कनेक्टिविटी प्रदान की जाती है। हम इसी के जरिए इंटरनेट इस्तेमाल करते हैं।
वाईफाई केवल लोकप्रिय Wireless Networking Technology नाम है। यानि ये WiFi Alliance का ट्रेडमार्क है। इसे रेडियो technologies का परिवार भी कहा जाता है
WIFI  लिए एक एडॉप्टर को हॉटस्पॉट बनाया जाता है, जो आमतौर पर एक वायरलेस राउटर होता है और बाकी DEVICE  जैसे कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल, गेम काउंसिल इंटरनेट एक्सेस के लिए कनेक्ट होते हैं।
WIFI एक लोकप्रिय वायरलेस नेटवर्किंग टेक्नोलॉजी का नाम है, जो HIGH SPEED INTERNET  और नेटवर्क कनेक्शन देने के लिए रेडियो सिगनल का प्रयोग करता है।
एक आम धारणा यह है कि WiFi का पूरा नाम "Wireless Fidelity" है, लेकिन यह सच नहीं है। वाई-फाई केवल एक ट्रेडमार्क वाक्यांश है, जो केवल ब्रांड नेम के लिए उपयोग होता है।
जिसका Wi शब्द Wireless और Fi शब्द IEEE 802.11x से लिया गया है। Wi-Fi का अर्थ IEE 802.11x होता है।
इसके जरिए हम एक सीमित स्थान तक इंटरनेट से जुड़ सकते हैं। सिर्फ इंटरनेट ही नहीं आजकल लोग इसके जरिए Wirelessly Data Transmit भी करते हैं। उदाहरण के लिए Share it, Xender का इस्तेमाल।
WiFi एक वायरलेस नेटवर्किंग टेक्नोलॉजी मानक है, जिसके एक से ज्यादा संस्करण होते हैं। यहां हम आपको वाईफाई के संस्करणों के बारे में बता देते हैं।
वाईफाई के सभी संस्करणों कोड नेम के साथ एक नाम भी दिया दिया जाता है जैसे 802.11a को WiFi 1 और 802.11b को WiFi 2 कहते हैं।


  • WiFi 1: 802.11a (1999)
  • WiFi 2: 802.11b (1999)
  • WiFi 3: 802.11g (2003)
  • WiFi 4: 802.11n (2009)
  • WiFi 5: 802.11ac (2014)
  • WiFi 6:802.11ax (2019)

WiFi काम कैसे करता है?

WiFi Technology काम कैसे करती है? इसको समझने का सबसे आसान तरीका मैं आपको बताता हूं। उदाहरण के लिए आप  बैंक  के वाईफाई को ले लो।
इसमें एक ऐसा WIFI  लगा होता है जो जो वायरलेस सिंगल को ट्रांसमिट करता है, जो कि आमतौर पर वाईफाई राउटर या HOTSPOT होता है।
बाहर से आए इंटरनेट  CONECTION की केबल इसमें लगी हुई होती है और यह अपने आसपास के सभी डिवाइस जैसे लैपटॉप, मोबाइल, टेबलेट और पीसी जैसे सभी डिवाइसेज को WIRELESS सिंगल के जरिए इंटरनेट कनेक्शन प्रदान करता है।
ऐसा ब्रॉडबैंड RAUTER  के साथ होता है। आजकल चल रहे हॉटस्पॉट में ऐसा डिवाइस लगा होता है जो वायरलेस सिंगल के जरिए ही इंटरनेट डाटा इनपुट और एक्सपर्ट करता है।
इसका परिणाम हमेशा समान होता है। वाईफाई का इस्तेमाल कैसे किया जा रहा है और उसका CONNECTION सोर्स क्या है, इससे कोई फर्क नहीं पड़ता।
आजकल के स्मार्ट फोन में वाई फाई सेवा की साथ HOTSPOT का ऑप्शन भी आता है। यानी कि आप ना केवल किसी दूसरे वाईफाई नेटवर्क का इस्तेमाल कर सकते हैं बल्कि अपने फोन राउटर की तरह इस्तेमाल करके HOTSPOT से कई अन्य डिवाइसों को इंटरनेट कनेक्शन प्रदान कर सकते हो।

WiFi के फीचर्स (Wi-Fi Features in Hindi)

आपको WIFIके फीचर्स के बारे में जरूर पता होना चाहिए। ताकि आप इसका अच्छी तरह से उपयोग कर सको। WIFI के फीचर्स निम्न प्रकार है।

1. Efficiency

मुख्यतः हम अपने मोबाइल में Internet के लिए Cellular Network का इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि इसका एरिया WIFI के मुकाबले ज्यादा होता है।
लेकिन आपको यह पता नहीं होगा कि जब आप चलती गाड़ी ट्रेन, बस में सेल्यूलर NETWORK का प्रयोग करते हो तो आप बार-बार अलग अलग नेटवर्क से जुड़ते जाते हो।

इससे MOBAIL  की एनर्जी ज्यादा खत्म होती है। यानी कि आपके मोबाइल की बैटरी जल्दी खत्म हो जाती है है। लेकिन WIFI के साथ ऐसा नहीं होता है।
क्योंकि Wi-Fi इंटरनेट के लिए Radio Waves का इस्तेमाल करता है और इसके लिए आपको राउटर की जरूरत होगी। मतलब आपके इससे आपके MOBAIL  की बैटरी charge पर बहुत कम फर्क पड़ता है।

2. Speed

WiFi की Speed के बारे में तो आपको पता ही होगा। मोबाइल नेटवर्क की तुलना में वाईफाई नेटवर्क की SPEED काफी ज्यादा होती है। शायद आप यह चेक भी कर चुके हैं।
उदाहरण के लिए, अगर आप वाईफाई के साथ Live Streaming कर रहे हैं तो आपको 1mbps से 100mbps तकी स्पीड मिलती है, जबकि MOBAIL  में सिर्फ LOADING  ही चलता रहता है।

3. Cost

MOBAIL डाटा के मुकाबले WiFi Price बहुत कम होता है। आपको याद भी होगा एक समय में लगभग ₹100 में 1GB इंटरनेट डाटा मिलता था। हालांकि अब Jio के आने के बाद डाटा कीमतें कम हो गई है।
कम कीमत की वजह से ही घर, ऑफिस के लिए लोग WIFI कनेक्शन का इस्तेमाल करते हैं। वरना MOBAIL  डाटा को अगर वाईफाई के जितना इस्तेमाल किया जाए तो आपका बिल 50 गुना ज्यादा होगा।
इतनी भी Internet network provider company है, अगर आप उनके प्लान को वाईफाई से कम पर करोगे तो WiFi इतना सस्ता. PLAN कोई नहीं दे सकता।

4. No Limit

Mobile data की एक LIMIT होती है। WiFi लेकिन नेटवर्क में आपको हर रोज लगभग 50GB से ज्यादा डाटा मिलता है। मतलब आप जितना चाहे INTERNET  इस्तेमाल कर सकते हो।

WiFi के फायदे (Wi-Fi Advantages in Hindi)

  • सबसे अच्छी बात आप एक राउटर से अपने सभी डिवाइसेज कंप्यूटर, लैपटॉप, मोबाइल, टेबलेट को CONNECT कर सकते हैं।
  • इसको इस्तेमाल करना बहुत आसान है आपको केवल WIFI ON करना है और पासवर्ड इंटर करना है, वाईफाई कनेक्ट हो जाएगा।
  • पहले हर जगह WIFI  मिलना मुश्किल था लेकिन आज के समय में रेलवे स्टेशन, बस, ट्रेन, कॉफी शॉप, सुपर मार्केट हर जगह WIFI सेवा उपलब्ध है।
  • वाईफाई बहुत सस्ता होता है। मोबाइल डाटा की तुलना में वाईफाई की कि हमसे बहुत कम होती हैं।
  • आप अपने WIFI राउटर को दुनिया के किसी भी देश में चला सकते हैं, मतलब आप वाईफाई राउटर का इस्तेमाल कहीं भी कर सकते हैं।
  • मोबाइल नेटवर्क की तुलना में WIFI की इंटरनेट स्पीड बहुत ज्यादा होती है, आप एक MB/PS से लेकर 100 MB/PS तक का लाभ उठा सकते हैं।

WiFi के नुकसान (Wi-Fi Disadvantages in Hindi)

  • WiFi केबल कनेक्शन के साथ तो बहुत अच्छी INTERNET  की स्पीड प्रदान करता है लेकिन HOTSPOT WIFI  शहर लोकेशन पर अच्छी  स्पीड नहीं मिलती है।
  • क्योंकि इसकी एक सीमा होती है WIFI NETWORK  एरिया की एक सीमा होती है। आप इसका इस्तेमाल केवल उसके आसपास रहकर ही कर सकते हैं।
  • आप एक Fixed Location और Area मैं ही इसका इस्तेमाल कर सकते हो। अगर आप दीवार के दूसरी तरफ उसका उपयोग करोगे तो इसकी SPEED  बहुत कम हो जाती है।
  • मोबाइल CONECTION  की तुलना में वाईफाई नेटवर्क की सिक्योरिटी बहुत कमजोर होती है, इसे आसानी से छोटा सा हैकर ACSESS कर सकता है।

WiFi का इतिहास (History of WiFi in Hindi)

WiFi का जन्म 1985 में हुआ था जब यूएस फेडरल कम्युनिकेशंस कमिशन के फैसले ने बिना LAISENCE  के उपयोग के लिए IMS  बैंड जारी किया था।
लेकिन उपभोक्ताओं के लिए WIFI को पहली बार 1997 में जारी किया गया था।, जब 802.11 नामक एक समिति बनाई थी, जिसे IEEE 802.11 के रूप में जाना जाता है।
उस समय 802.11 standard की Data transfer speed करीबन 2 megabits per second थे। उसके बाद 1999 में 802.11a को Publish किया गया।
इसकी रफ्तार करीबन 54 MBPS थी। उसके बाद 1999 में ही 802.11b, 2003 में 802.11g, 2009 में 802.11n और 2014 में 802.11ac की शुरुआत हुई।
और अब 2019 में 802.11ax standard आने वाला है।

मंगलवार, 30 जुलाई 2019

जुलाई 30, 2019

ANDROID PHONE KE LIY TOP 10 BROWSER



आपने अपने एंड्रॉयड फोन में बहुत सारे इंटरनेट browser का उपयोग किया होगा।  इस पोस्ट में हम आपको Android Mobile के लिए 10 Best Internet Browsers के बारे में विस्तार से बताएंगे। चलिए जानते हैं, मोबाइल फोन के लिए 10 सबसे बढ़िया इंटरनेट ब्राउजर - 10 Best Internet Browser for Android in Hindi.
Android Mobile में difaltरूप से गूगल अकाउंट के साथ क्रोम ब्राउज़र मिलता है। लेकिन यह सर्वश्रेष्ठ नहीं है, 



बहुत से लोग इसे पसंद नहीं करते हैं और दूसरे इंटरनेट BROWSER का इस्तेमाल करते हैं।गूगल प्ले स्टोर पर इंटरनेट browsersका खजाना है। जहां से आप अपना पसंदीदा इंटरनेट ब्राउजर डाउनलोड कर सकते हैं और अपने एंड्रॉयड फोन में उपयोग कर सकते हैं


Android Phone के लिए Top 10 Internet Browsers



मोबाइल फोन के लिए सबसे अच्छा INTERNET ब्राउजर, स्मार्टफोन के लिए सबसे बढ़िया इंटरनेट ब्राउजर कौन सा है।
Smartphone users ke लिये top 10 बेस्ट internet ब्राउज़र हिंदी में। 


1. UC Browser


UC Browser मोबाइल उपयोगकर्ताओं द्वारा सबसे ज्यादा उपयोग किया जाने वाला INTERNET ब्राउजर है। यह बाकी सभी इंटरनेट ब्राउज़र की तुलना में अधिक सुविधाएं प्रदान करता है। साथ ही फास्ट DAWNLODING सेवा भी देता है।
इसीलिए फीचर्स के हिसाब से UC Browser
 बेस्ट है लेकिन ADULT  कंटेंट की वजह से ही एक बहुत ही बेकार browsers है अगर आप 18+ के है तो ही इसका उपयोग करें।

2. Brave Browser


Brave Browser नए और बेस्ट इंटरनेट ब्राउज़र में से एक है। जिसे मुख्यतः सिक्योरिटी के लिए बनाया गया है। यह एक एड ब्लॉक कर ब्राउज़र है, इसमें कई तरह की विशेषताएं हैं।
यह ads एवं सभी प्रकार की कुकीज को ब्लॉक कर सकता है, मैलवेयर स्क्रिप्ट को ब्लॉक कर सकता है। यह ब्राउज़र हर एक वेबसाइट को HTTPS के साथ ओपन करता है।
ब्रेव BROWSER  उपयोग करने के क्या-क्या फायदे हैं उसकी INFORMATIIN यहां है,

3. Samsung Internet Browser


इस browser को इस लिस्ट में देखकर आपको अजीब लग सकता है, लेकिन इससे भी ज्यादा अजीब आपको तब लगेगा जब आप जानोगे कि इस ब्राउज़र को 1 billion  से भी ज्यादा बार DAWNLOAD किए जाने के बावजूद इसे 4.4 की रेटिंग मिली हुई है।
जी हां, इस ब्राउज़र को 10 हजार लाख बार डाउनलोड किया जा चुका है उसके बावजूद इसे 4.4 रेटिंग प्राप्त है। यह ब्राउज़र सैमसंग MOBAIL मालिकों के लिए सर्वश्रेष्ठ हो सकता है।

4. Dolphin Web Browser


डॉल्फिन browsers में एंड्राइड DEVISE अपाचे सफलता पाई है। इसमें सुविधाओं का एक अच्छा सेट मिलता है। जिसमें thiming फ्लैश सपोर्ट, एड-ब्लॉक और कई अन्य फीचर मिलते हैं।
सबसे अच्छी बात यह है कि यह ब्राउज़र Add on Extension वे सपोर्ट करता है। हां यह एक विकल्प के रूप में बहुत आकर्षक नहीं है लेकिन यह एक बहुत ही अच्छा इंटरनेट ब्राउजर है।

5. CM Browser


CM Browser बहुत ही Fast & Secure Browser है। यह आपके द्वारा की गई एक्टिविटीज को ट्रैक नहीं करता है। यह ब्राउज़र ऑफलाइन होने के बाद सभी data डाटा को automatically delete कर देता है।
6.DuckDuckGo
DuckDuckGo प्राइवेसी के मामले में सबसे बेहतरीन सर्च इंजन है। लेकिन इसके पास अपने प्रतिद्वंद्वियों की तरह सभी प्रकार की सेवाएं और प्रोडक्ट नहीं है। लेकिन इसका Android Browser लाजवाब है।
इसके एंड्राइड ब्राउज़र को उपयोगकर्ताओं ने गूगल प्ले स्टोर पर सबसे ज्यादा रेटिंग दी है। लगभग 5 MILLION से अधिक बार डाउनलोड किए जाने के बाद भी इसकी रेटिंग 4.7 है जो कि बहुत ज्यादा है।
बहुत से उपयोगकर्ताओं का मानना है कि DuckDuckGo गूगल से भी बेहतर है। यह सभी प्रकार के विज्ञापनों को खत्म कर देता है। यदि आप अपने वाईफाई नेटवर्क पर सिर्फ देना चाहते हैं तो यह ब्राउज़र आपके लिए ही है।

7 Microsoft Edge


यह माइक्रोसॉफ्ट का ऑफिशियल INTERNET ब्राउज़र है। यह विंडोज कंप्यूटर के लिए बेस्ट ब्राउजर है, इसका मोबाइल संस्करण भी बेहतर सर्विस प्रदान करता है।
यह ब्राउजर भी एड ब्लॉकर, ट्रांसलेशन सर्विस, पासवर्ड मैनेजर और न्यूज़ गार्ड जैसी सर्विस प्रदान करता है। इसको भी गूगल प्ले स्टोर पर क्रोम ब्राउज़र की तरह 4.3 रेटिंग मिली हुई है।

8. Google Chrome


चाहे मोबाइल हो या LAPTOP डिवाइस के लिए अधिकतर उपयोगकर्ता गूगल क्रोम ब्राउज़र को ही पसंद करता है। लोग बाकी इंटरनेट ब्राउज़र्स की तुलना में क्रोम ब्राउजर पर ज्यादा ट्रस्ट करते हैं।
Android phone पर अब तक क्रोम ब्राउज़र को 1.4 बिलियन बार डाउनलोड किया जा चुका है। उसके बावजूद भी इसे 4.3 rating मिली हुई है। जिससे हम अंदाजा लगा सकते हैं कि यह ब्राउज़र कितना बेहतर है।
अधिकांश उपयोगकर्ताओं के लिए क्रोम ब्राउज़र सबसे अच्छा एंड्रॉयड ब्राउज़र है। लेकिन इसकी एक सबसे बड़ी कमी है आप इस पर एक्सटेंशन नहीं जोड़ सकते हैं।

9. Mozilla Firefox


Mozilla Firefox प्राइवेसी और सिक्योरिटी के लिए सबसे बेस्ट ब्राउज़र है।अधिकतर यूजर्स प्राइवेसी के लिए गूगल क्रोम और ओपेरा ब्राउजर पर छोड़कर मोज़िला फायरफॉक्स ब्राउजर का उपयोग करते हैं।
यदि आप उस व्यक्ति की तरह हैं जो यह तय करना चाहता है कि आपके ब्राउज़र में tabs कैसे प्रदर्शित करते हैं, हर चीज का रंग कैसा होना चाहिए और आपको अधिक सुविधा चाहिए तो FIREFOX ब्राउजर आपके लिए ही है।

10. Opera Browser


Opera browser का data saver feature इसे बागी ब्राउज़र से अलग करता है। अगर आप अपने internet data की बचत करना चाहते हैं तो यह ब्राउज़र आपके लिए ही है।ओपेरा ब्राउजर सबसे तेज इंटरनेट ब्राउज़रों में से एक है। यह निशुल्क VPN प्रदान करता है लेकिन इसकी एक समस्या है, इसका इंटरफेस बागी ब्राउज़र की तुलना में हार्ड है।